Tag: अष्टक

हर संकट से मुक्ति के लिए संकटमोचन हनुमानाष्टक का पाठ करें

बाल समय रबि लियो तब तीनहुँ लोक भयो अँधियारो। ताहि सों त्रास भयो जग को यह संकट काहु सों जात न टारो॥ देवन आनि करी बिनती...

श्री कृष्ण अष्टकम | Shri Krishna Ashtakam

चतुर्मुखादि-संस्तुं समस्तसात्वतानुतम्‌। हलायुधादि-संयुतं नमामि राधिकाधिपम्‌॥1॥ बकादि-दैत्यकालकं स-गोप-गोपिपालकम्‌। मनोहरासितालकं नमामि राधिकाधिपम्‌॥2॥ सुरेन्द्रगर्वभंजनं विरंचि-मोह-भंजनम्‌। व्रजांगनानुरंजनं नमामि राधिकाधिपम्‌॥3॥ मयूरपिच्छमण्डनं गजेन्द्र-दन्त-खण्डनम्‌। नृशंसकंशदण्डनं नमामि राधिकाधिपम्‌॥4॥ प्रसन्नविप्रदारकं सुदामधामकारकम्‌। सुरद्रुमापहारकं नमामि राधिकाधिपम्‌॥5॥ धनंजयाजयावहं महाचमूक्षयावहम्‌। पितामहव्यथापहं नमामि राधिकाधिपम्‌॥6॥ मुनीन्द्रशापकारणं यदुप्रजापहारणम्‌। धराभरावतारणं नमामि राधिकाधिपम्‌॥7॥ सुवृक्षमूलशायिनं मृगारिमोक्षदायिनम्‌। स्वकीयधाममायिनं नमामि...

MOST POPULAR

HOT NEWS